भारत तिब्बत सहयोग मंच द्वारा रजत जयंती दिवस पर पर्यावरण संरक्षण एवं कैलाश मानसरोवर पर एक अनोखी चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया ।

 

भारत तिब्बत सहयोग मंच द्वारा रजत जयंती दिवस पर पर्यावरण संरक्षण एवं कैलाश मानसरोवर पर एक अनोखी चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया ।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक  इन्द्रेश जी के मार्गदर्शन एवं राष्ट्रीय महामंत्री पंकज गोयल जी के दिशा निर्देशन में चलने वाले संगठन
भारत तिब्बत सहयोग मंच के स्थापना के रजत जयंती दिवस के अवसर पर एक चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन आर्य एकेडमी इंटरनेशनल स्कूल में किया गया। इस प्रतियोगिता में छात्र-छात्राओं ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया । दो वर्गों में आयोजित प्रतियोगिता में छात्र-छात्राओं ने जूनियर वर्ग में पर्यावरण संरक्षण पर एवं सीनियर वर्ग में कैलाश मानसरोवर एवं दलाई लामा जी की कलाकृति को अपने मन के भावों को तूलिका के माध्यम से उकेरा । ढाई घंटे चली इस प्रतियोगिता में 175 विभिन्न कक्षाओं के छात्र-छात्राओं ने प्रतिभाग किया । इस आयोजन का संयोजन भारत तिब्बत सहयोग मंच के युवा इकाई के सदस्य एड. अभिषेक राजपूत ने किया ।

जूनियर वर्ग मे प्रथम-मोहम्मद खुमानी, द्वितीय-सारस भट्ट, तृतीय-श्रुति एवं सांत्वना-कुमकुम रानी तथा सीनियर वर्ग में प्रथम-अंशिका प्रजापति, द्वितीय-चित्रांशा भट्ट, तृतीय-वंशिका एवं सांत्वना-इच्छा को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया ।

पुरस्कार वितरण समारोह में बच्चों द्वारा बनाई गई कलाकृतियों की प्रदर्शनी भी आयोजित की गई ।

विद्यालय के निदेशक सुघोष आर्य  ने भारत तिब्बत सहयोग मंच के सभी पदाधिकारी एवं सदस्यों का भव्य स्वागत किया एवं विद्यालय में कार्यक्रम आयोजित करने हेतु आभार व्यक्त किया ।

इस अवसर पर जिला महामंत्री विष्णु स्वरूप अग्रवाल ने
सभी उपस्थित लोगों को भारत तिब्बत सहयोग मंच द्वारा किए जा रहे कार्यों – चीनी सामान का बहिष्कार, तिब्बत की स्वत्ता, चीन का हिंदुओं के आराध्य भगवान शिव के निवास स्थान कैलाश मानसरोवर पर अनाधिकृत आधिपत्य, चीन के अनीति पूर्ण विस्तारवाद के बारे में बताया । जिलाध्यक्ष- विजय वर्मा  का विशेष सहयोग रहा । एड. संदीप दास-प्रांत संयोजक प्रकृति संरक्षण ने बच्चों को पर्यावरण संरक्षण के महत्व को संक्षिप्त रूप से समझाया । कार्यक्रम को सफल बनाने में एड. संदीप दास, जोगिंदर, श्रीमती नीलू सिंह एवं स्कूल स्टाफ का विशेष सहयोग रहा ।

विजेता प्रतिभागियों को मंच द्वारा स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया । विद्यालय द्वारा श्रेष्ठ योगदान हेतु निदेशक सुघोष आर्य एवं प्रधानाचार्या श्रीमती सोनिका आर्य को मंच की ओर से स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया । राष्ट्रगान के साथ कार्यक्रम संपन्न हुआ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *