मुस्लिम छात्राओं ने हाथों पर लगे श्री राम की मेहंदी तो भड़क उठे मौलाना

मुस्लिम छात्राओं ने हाथों पर लगे श्री राम की मेहंदी तो भड़क उठे मौलाना

उत्तर प्रदेश के जनपद मुजफ्फरनगर में एक बार फिर श्री राम ग्रुप ऑफ़ कॉलेजेस के नाम से शिक्षण संस्था एक बार फिर सुर्खियों में आ गई है इस बार श्री राम कॉलेज में पुरुषोत्तम श्री राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को लेकर देश भर में अनेक कार्यक्रम चल रहे हैं जिसके चलते छात्राओं के द्वारा मेहंदी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था जिसमें श्री राम की तस्वीर के अलावा राम आएंगे आदि स्लोगन लिखें गए जिनमें कुछ मुस्लिम छात्राओं ने भी जैसे ही मुस्लिम छात्रों के हाथों में मेहंदी लगी खबरें चैनल को या सोशल मीडिया के माध्यम से प्रसारित हुई तो मौलानाओ मौलाना भड़क उठे इसके बाद जमीयत उलेमा के पदाधिकारीयों ने एसएसपी कार्यालय पहुंचकर श्री राम ग्रुप कॉलेज पर मुकदमा लिखने की मांग करने लगे और एक ज्ञापन एसएसपी को सौंपा गया
जमीयत उलेमा के जिला कन्वीनर मौलाना मुकर्रम कासमी ने कहा कि श्री राम ग्रुप कॉलेज के द्वारा आए दिन अनेको कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है जिसमें बहुत से प्रोग्राम ऐसे आयोजित किए जाते हैं जिसमें मुस्लिम समाज की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का काम किया जा रहा है उन्होंने बताया कि इसी कालेज मे पूर्व में बुरखे का फैशन शो का आयोजन किया गया था जिसमें मुस्लिम लड़कियों को बुर्का पहनकर फैशन शो कराया गया जो कि इस्लाम के खिलाफ है वहीं उन्होंने कहा कि श्रीराम ग्रुप ऑफ कॉलेज के द्वारा मुस्लिम बच्चियों के हाथों पर श्री राम के नाम लिखवाए गए और श्री राम के नाम की मेहंदी लगाई गई जिस पर मुस्लिम समाज की धार्मिक भावनाओं को आहत हुई है इसलिए वह मांग करते हैं कि इस पूरे प्रकरण की जांच कर श्री राम कॉलेज के खिलाफ कार्रवाई की जाएl मौलाना ने अयोध्या में होने वाले श्री राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पहुंचने को लेकर भी सवाल उठाए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री है सभी वर्गों के प्रधानमंत्री है उन्हें अयोध्या में नहीं जाना चाहिए
इस दौरान इस दौरान मौलाना ने कहा कि वह केवल सुप्रीम कोर्ट के फैसले की वजह से चुप है वरना अयोध्या में जिस स्थान पर मंदिर बन रहा है वंहा बाबरी मस्जिद थी और है और आगे भी रहेगी

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *