मुज़फ्फरनगर मे खाकी हुई दागदार दरोगा पर युवती से 4 वर्षों तक युवती को ब्लैकमेल कर रेप का आरोप

मुज़फ्फरनगर मे खाकी हुई दागदार

दरोगा पर युवती से 4 वर्षों तक युवती को ब्लैकमेल कर रेप का आरोप

उत्तर प्रदेश के जनपद मुज़फ्फरनगर मे खाकी को शर्मसार करने का एक मामला सामने आया है। जिसमे पीड़िता युवती का आरोप है कि एक दरोगा ने उसके पिता को जेल भेजने की धमकी देकर उसका वर्षों तक शरीरिक शोषण किया और उसके अश्लील फोटो भी खींच लिए और दरोगा युवती को फोन व मैसेज कर लगातार मिलने के लिए बुला रहा है। युवती द्वारा मिलने से मना करने पर दरोगा लड़की के अश्लील फोटो वायरल करने की धमकी दे रहा है। पीड़िता ने एसएसपी मुजफ्फरनगर को शिकायती पत्र देकर मामले में कार्यवाही की मांग की है वहीं एसएसपी ने पीड़िता को जल्द इंसाफ दिलाने की बात कही है
दरअसल जनपद मुज़फ्फरनगर मे थाना भोपा क्षेत्र के एक गांव निवासी एक युवती ने सोमवार को एसएसपी कार्यालय पहुंचकर तहरीर देते हुए बताया कि वह अनुसूचित जाति की लड़की है वर्ष 2019 में थाना भोपा में सीकरी चौकी पर तैनात सब इन्सपेक्टर अजय आया हुआ था उस समय मेरे पिता व उनके भाई में घर की जमीन को लेकर विवाद हो गया था उस समय अजय एस०आई० हमारे घर में आने लगा और मुझ पर गन्दी नीयत रखने लगा। एक दिन वह दोपहर को हमारे घर आया उस समय हमारे घर पर कोई नही था और मुझे जाँच के बहाने अपनी गाड़ी में ले गया और जंगल के रास्ते से ले जाकर मेरा जबरदस्ती रेप किया। जब मैने इसका विरोध किया तो दरोगा ने मुझे धमकी दी कि तुझे व तेरे परिवार को झूठे मुकदमो में जेल भेज दूँगा। आगे युवती ने बताया कि मैं एक गरीब परिवार की अनुसूचित जाति के परिवार से हूँ उस वक्त मैं बहुत डर गयी थी। और मैने अपने परिवार को कुछ नहीं बताया उसके बाद जब मै कालेज जाती थी तो मुझे रास्ते से उठाकर गाडी नम्बर यू०पी० 12 बी डी 1919 में जोर जबरदस्ती से ले जाया करता था और मेरा शारिरिक व मानसिक शोषण करता रहा।
पीड़िता ने दरोगा पर अश्लील फोटो वायरल करने की धमकी देकर रेप करने का भी आरोप है
युवती के अनुसार उक्त दरोगा उसकी गन्दी फोटो खींचकर वायरल करने की धमकी देता रहा। वर्ष 2019 से दिसम्बर 2023 तक उसके साथ रेप व शारीरिक शोषण करता रहा है। तब भी पीड़िता कालेज में पढाई करने जाती थी तब भी उसे डरा धमकाकर वहाँ से उठाकर अपनी गाडी में ले जाकर रेप किया गया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *