श्री आदर्श रामलीला पटेलनगर में रामलीला मंचन का शुभारंभ

श्री आदर्श रामलीला पटेलनगर में रामलीला मंचन का शुभारंभ

मंत्री कपिल देव, समाजसेवी सत्यप्रकाश रेशू ने किया पूजन, नारद मोह लीला ने दर्शकों को किया मोहित

मुजफ्फरनगर: श्री आदर्श रामलीला भवन सेवा समिति पटेलनगर द्वारा आयोजित श्री रामलीला मंचन का भव्य शुभारंभ हुआ। इस दौरान स्थानीय कलाकारों ने अपनी मंचीय प्रस्तुतियों से सभी को मोहित किया। पहले दिन नारद मोह और शिव पार्वती की लीलाओं ने दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया और पहले ही दिन भारी संख्या में दर्शक पटेलनगर रामलीला मैदान पर उमड़े नजर आये। कलाकारों ने अपनी उत्कृष्ट कला प्रदर्शन से दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया।
श्री आदर्श रामलीला भवन सेवा समिति पटेलनगर के तत्वाधान में 48वें श्री रामलीला मंचन महोत्सव का भव्य शुभारंभ हुआ। मुख्य अतिथि प्रदेश सरकार में व्यावसायिक शिक्षा, कौशल विकास एवं उद्यमशीलता राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार कपिल देव अग्रवाल ने विधिवत फीता काटकर प्रभु श्रीराम के जीवन चरित्र पर आधारित श्री रामलीला मंचन का उद्घाटन किया। समाजसेवी सत्यप्रकाश रेशू एवं उनकी धर्मपत्नी श्रीमति शैल गर्ग ने अन्य अतिथियों नारायण ऐरन, ज्योति ऐरन, कन्दर्प ऐरन, विनय गुप्ता, सपना गुप्ता के साथ पूजन सम्पन्न कराया।  इसके साथ ही अतिथियों ने भगवान श्री गणेश की स्तुति और आरती के साथ उनको भोग लगाया। मंत्री कपिल देव अग्रवाल ने श्री रामायण जी, राधा कृष्ण की भी आरती की। कार्यक्रम में पहुंचे सभी अतिथियों और गणमान्य लोगों का कमेटी के पदाधिकारियों ने पटका पहनाकर स्वागत एवं अभिनंदन किया। अतिथियों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। पूजन अनुष्ठान आचार्य पंडित बिजेन्द्र मिश्रा और जितेन्द्र मिश्रा द्वारा सम्पन्न कराया गया।
पहले दिन श्री आदर्श रामलीला भवन सेवा समिति के तत्वाधान में श्री गणेश वंदना और सरस्वती पूजन के बाद नारद मोह की लीला का सुन्दर मंचन किया गया। कलाकारों से भगवान श्री गणेश से वरदान प्राप्त कर नारद मोह की लीला को सुन्दर ढंग से मंचीय प्रस्तुति में ढाल कर प्रस्तुत किया गया। लीला में भगवान विष्णु द्वारा नारद जी का मोह भंग किया गया। इसके पश्चात भगवान शिव और पार्वती की लीला ने भी दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। भगवान शिव ने पार्वती को भगवान विष्णु के प्रभु श्रीराम के अवतार और उसकी आवश्यकता की पूरी लीला का वर्णन सुन्दर ढंग से किया, तो पूरा वातावरण भगवान श्रीराम की भक्ति में डूब गया और जय श्रीराम के जयघोष ने वातावरण को धार्मिक बना दिया। अज्जू गोयल और विपुल मोहन ने शिवगणों के रूप में बहुत ही सुन्दर ढंग अभियान कर दर्शकों को मोहित किया। रामलीला में विशाल शर्मा ने नारद मुनि, भगवान शिव सोन सिंह, इन्द्र भगवान देवेन्द्र, कामदेव आकाश गोयल और भगवान गणेश के स्वरूप का अभिनय शिवांश ठाकुर ने करते हुए दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया।

इस अवसर पर मंत्री कपिल देव ने कहा कि रामलीला के आयोजन हमें धर्म और संस्कृति की पहचान कराते हैं। इन मंचों पर होने वाली भगवान श्रीराम की लीला आधुनिक युग में सोशल साइट और इंटरनेट के साथ जुड़ने वाली युवा पीढ़ी को अपनी संस्कृति की पहचान कराती है। हमें अपने बच्चों के साथ रामलीला में अवश्य आना चाहिए। संस्कृति से जुड़कर ही हम एक संस्कारवान और आस्थावान पीढ़ी तैयार कर पायेंगे। संस्कृति की जानकारी होने से ही धर्म बचेगा और धर्म रहेगा तो समाज भी रहेगा। समाजसेवी सत्यप्रकाश रेशू ने कहा कि आज देश और प्रदेश में धर्म की पताका लहरा रही है। अयोध्या में भव्य राम मंदिर तैयार हो रहा है। यही रामलीलाएं हमें संस्कृति के सूत्र में बांधते हुए एक दूसरे से जोड़ती हैं। उन्होंने कमेटी के लोगों की सुन्दर आयोजन के लिए सराहना की।
श्री आदर्श रामलीला भवन सेवा समिति के कार्यक्रम संयोजक पूर्व सभासद विकल्प जैन ने बताया कि इस साल समिति द्वारा 48वें श्री आदर्श रामलीला मंचन महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। यह रामलीला स्थानीय कलाकारों के द्वारा ही मंचित की जाती है। इसमे ं सभी कलाकार समिति के पदाधिकारी या उनके परिवार से ही होते हैं। उन्होंने सभी लोगों से प्रतिदिन रामलीला मंचन देखने आने के लिए अपील की। इस दौरान मुख्य रूप से समाजसेवी मनीष चौधरी, सभासद नवनीत गुप्ता, प्रियांक गुप्ता, प्रशांत गौतम, अनिल गोयल, रविन्द्र प्रधान, केपी चौधरी, वैभव जैन के अलावा रामलीला समिति के अध्यक्ष गोपाल चौधरी, मुख्य प्रबंधक अनिल ऐरन, कार्यक्रम संयोजक सभासद विकल्प जैन, महामंत्री सुरेंद्र मंगल, मंत्री जितेंद्र कुच्छल, प्रमोद गुप्ता, धर्मेंद्र पंवार नीटू, मुख्य निर्देशक विजय मित्तल, पंकज शर्मा, निर्देशक अमित शर्मा, गोविंद शर्मा, नारायण ऐरन, जितेंद्र नामदेव, विनय गुप्ता टिंकू, पीयूष शर्मा, राकेश बंसल, अनिल गोयल, राकेश मित्तल, अंकुशल गुप्ता, विपुल मोहन, अज्जू जैन, आकाश गोयल, गौरव मित्तल, अनुराग अग्रवाल एडवोकेट आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *