17 वर्षीय बालिका का अपहरण के बाद बलात्कार आरोपी गणेश को 20 वर्ष की सज़ा व 40 हज़ार रुपये जुर्माना

17 वर्षीय बालिका का अपहरण के बाद बलात्कार आरोपी गणेश को 20 वर्ष की सज़ा व 40 हज़ार रुपये जुर्माना

जुर्माने की रकम से 30 हज़ार रुपये पीडिता को देने के आदेश

उत्तर प्रदेश के जनपद मुज़फ्फरनगर में विशेष अपर सत्र न्यायाधीश पोक्सो एक्ट मुजफ्फरनगर कप तहसील अधिकारी बाबूराम की कोर्ट ने 17 वर्षीय बालिका का अपहरण कर उसके साथ बलात्कार करने के आरोपी को 20 वर्ष के सश्रम कारावास और 40 हजार के अर्थ दंड की सजा सुनाई है साथ ही जमाने की रकम से 30 हजार पीड़िता को भी देने के आदेश किए हैं । जबकि इस मामले में दूसरे आरोपी दीपक को कोर्ट ने सबूत क्या भाव में बरी कर दिया है
जनपद मुजफ्फरनगर में गत 31 अगस्त 2022 को थाना मीरापुर क्षेत्र के एक गांव निवासी 17 वर्षीय बालिका का अपहरण कर गाज़ियाबाद व दिल्ली होटल में रखकर बलात्कार के मामले में आरोपी गणेश पुत्र धर्मपाल निवासी गांव तुलहेड़ी को विशेष अपर सत्र न्यायाधीश पोक्सो एक्ट मुजफ्फरनगर के पीठासीन अधिकारी न्यायाधीश बाबूराम की कोर्ट ने 20 वर्ष के सश्रम कारावास और 40 हज़ार रुपये के अर्थदंड की सजा सुनाई है। इसके साथ ही कोर्ट ने जुर्माने की रकम में से 30 हज़ार रुपये पीडिता को देने के आदेश जारी किए हैं इसके साथ ही इस मुकदमे में दूसरे आरोपी आरोपी दीपक को सबूत के अभाव में बरी किया गया है अभियोजन की ओर से विशेष लोक अभियोजक दिनेश शर्मा व मनमोहन वर्मा ने पैरवी की
अभियोजन की कहानी के अनुसार गत 31 अगस्त 2022 को थाना मीरापुर के एक गांव में अपने पिता के साथ जंगल मे चारा लेने गई 17 वर्षीय बालिका को बहलाकर फुसलाकर गाज़ियाबाद व दिल्ली के होटल के कमरे में रखकर बलात्कार किया गया घटना के संबंध में पीडिता के पिता ने मामला दर्ज कराया था पुलिस ने धारा 363, 366, 376, व पोक्सो एक्ट में गणेश पुत्र धर्मपाल निवासी तो तुलहेडी व दीपक पुत्र धर्मपाल के विरुद्ध मामला दर्ज कर कोर्ट में आरोप पत्र दाखिल किया था जिसमें दीपक को सबूत के अभाव में बरी किया गया है

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *