मुजफ्फरनगर में दो सगी बहनों को भगाकर बलात्कार के मामले में कोर्ट ने आरोपी कृष्णा व राहुल को सुनाई 18 वर्ष और 65 – 65 हज़ार रुपये के जुर्माने की सजा

मुजफ्फरनगर में दो सगी बहनों को भगाकर बलात्कार के मामले में कोर्ट ने आरोपी कृष्णा व राहुल को सुनाई 18 वर्ष और 65 – 65 हज़ार रुपये के जुर्माने की सजा

विशेष लोक अभियोजक विक्रांत राठी और प्रदीप बालियान ने की मामले की पैरवी

उत्तर प्रदेश के जनपद मुज़फ्फरनगर में विशेष अदालत पोक्सो के ज़ज़ नीतीश सचदेवा की कोर्ट नाबालिक बहनों को बहला-फुसलाकर ले जाने और फिर उनके साथ बलात्कार करने के मामले में दो आरोपियों को 18 वर्ष के कारावास और 65 -65 के जुर्माने की सजा सुनाई है ।
दरअसल गत 11 जनवरी 2019 को थाना चरथावल क्षेत्र के कस्बा चरथावल के एक मोहल्ला निवासी से दो सगी बहनों को बहला-फुसलाकर भगा ले जाने के बाद उनके साथ बलात्कार की घटना सामने आई थी जिसमें पीड़ित पक्ष की ओर से आरोपी कृष्णा और राहुल के खिलाफ थाने में मुकदमा दर्ज किया गया था । पीड़ित बहनों के नाबालिक होने के कारण विशेष अदालत पोक्सो के न्यायधीश नीतीश सचदेवा की कोट ने कृष्णा और राहुल को 18 वर्ष की सज़ा व 65, 65 हज़ार रुपये का जुर्माना किया गया । विशेष अदालत पोक्सो कोर्ट में सुनवाई के दौरान अभियोजन की ओर से विशेष लोक अभियोजक विक्रांत राठी व प्रदीप बालियान ने पैरवी की कोर्ट ने धारा 363 में 5 वर्ष 5 हज़ार रुपये जुर्माना , 366 में 8 वर्ष व 15 हज़ार रुपये जुर्माना, धारा 376 में 15 वर्ष व 20 हज़ार रुपये जुर्माना व पोक्सो एक्ट में 18 वर्ष सज़ा व 25 हज़ार रूपये का जुर्माना किया गया।
अभियोजन के अनुसार गत 11 जनवरी 2019 को चरथावल निवासी कृष्णा व राहुल दो बहनों को भगा लगाए थे। उनके साथ बलात्कार की घटना को अंजाम दिया था

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *