नाबालिक बच्ची से बलात्कार और बच्चे से दुष्कर्म के 2 अलग-अलग मामलों में कोर्ट ने सुनाई कठोर सजा

नाबालिक बच्ची से बलात्कार और बच्चे से दुष्कर्म के 2 अलग-अलग मामलों में कोर्ट ने सुनाई कठोर सजा

उत्तर प्रदेश के जनपद मुजफ्फरनगर की दो विशेष पोक्सो अदालतों ने मासूम बच्चों से दुराचार के दो अलग-अलग मामलों में आरोपियों को दोषी ठहराते हैं उन्हें सजा सुनाई है जिसमें एक विशेष पोक्सो कोर्ट ने दोषी को उम्र कैद की सजा सुनाई है। एक आठ वर्षिय दलित बालक के साथ कुकर्म केआरोपी खालिद को उम्रकैद और 32 हज़ार रुपये के जुर्माने की सजा सुनाई गई
पहला मामला जनपद मुज़फ्फरनगर में गत 2 जुलाई 2016 का है जहां थाना छपार के एक गांव में खेत से वापस आते हुए एक आठ वर्षीय दलित बालक को गन्ने के खेत मे लेजाकर कुकर्म करने व जान से मारने की धमकी देने के मामले में आरोपी खालिद को उम्रकैद और 32 हज़ार रुपये का जुर्माना किया गया है मामले की सुनवाई विशेष अदालत पोक्सो के ज़ज़ बाबूराम की अदालत में हुई अभियोजन की ओर से विशेष अभियोजक दिनेश शर्मा व मनमोहन वर्मा ने पैरवी की अभियोजन की कहानी के अनुसार गत 2 जुलाई 2016 को थाना छपार के एक गांव की घटना है ।

दूसरा मामला नाबालिग के साथ बलात्कार के मामले में आरोपी सचिन को 20 वर्ष की सज़ा और 40 हज़ार रुपये का जुर्माना लगाया गया ।
मामला जनपद मुज़फ्फरनगर के थाना शाहपुर क्षेत्र के एक गांव का है जहां
गत 19 जुलाई 2018 को एक नाबालिग लड़की को गन्ने के खेत मे ले जाकर बलात्कार किए जाने के मामले में आरोपी सचिन को 20 वर्ष की सज़ा व 40 हज़ार रुपये का जुर्माना किया गया है। मामले की सुनवाई विशेष अदालत पोक्सो एक रितिष सचदेव की अदालत में हुई अभियोजन की ओर से एडीजी सी कुलदीप पुंढीर ने पैरवी की
आरोपी घटना के बाद से ही जेल में है
अभीयोजन की कहानी के अनुसार खेत मे घास लेने गई नाबालिग लड़की को आरोपी ने दबोच लिया ओर गन्ने के खेत में ले जाकर बलात्कार किया गया था

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *