आचार संहिता उल्लंघन के मामले में योगी के मंत्री कपिलदेव अग्रवाल को मिली राहत, कोर्ट ने मुकदमा किया खारिज

आचार संहिता उल्लंघन के मामले में योगी के मंत्री कपिलदेव अग्रवाल को मिली राहत, कोर्ट ने मुकदमा किया खारिज


उत्तर प्रदेश के जनपद मुज़फ्फरनगर में योगी सरकार में व्यवसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग के स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्री कपिल देव अग्रवाल को कोर्ट से उस समय राहत मिल गई जब विधानसभा चुनाव 2017 दौरान मंत्री कपिल देव अग्रवाल पर थाना नगर कोतवाली क्षेत्र में आदर्श आचार संहिता के का मामला दर्ज हुआ था । मामले की सुनवाई एमपी एमलए विशेष अदालत में रही थी जिसमें न्यायधीश जयसवाल की कोर्ट ने सुनवाई करते हुए सबूतों के अभाव में मामला खारिज करते हुए मंत्री कपिल देव अग्रवाल को राहत दी है । दरअसल बुधवार को विशेष अदालत एमपी एमएलए कोर्ट के ज़ज़ मयंक जायसवाल ने सबूत के अभाव में कपिल देव अग्रवाल को आज बरी कर दिया इस से पहले मंत्री कपिल अग्रवाल कोर्ट में पेश हुए
बचाव पक्ष के वकील भाजपा नेता शिवराज त्यागी ने बताया कि गत 16, जनवरी 2017 को कोतवाली पुलिस ने कपिल अग्रवाल के विरुद्ध धारा 188,171H और 125 आईपी से के तहत मामला दर्ज किया था जिस में अचरसहिंता के उलघन करने का मामला बनाया था कोर्ट से राहत मिलने के बाद मंत्री कपिल देव अग्रवाल ने कहां की कोर्ट ने सम्मानजनक फैसला किया है क्योंकि तत्कालीन समाजवादी पार्टी की सरकार ने झूठे मामले दर्ज कराए थे जिसमें कोर्ट ने सुनवाई के दौरान मामला झूठा पाया जाने पर मामले को खारिज कर दिया है

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *