प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के बामनहेडी स्थित दिव्य अनुभूति भवन में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर “खुशहाल महिला खुशहाल परिवार” कार्यक्रम आयोजित किया गया

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के बामनहेडी स्थित दिव्य अनुभूति भवन में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर “खुशहाल महिला खुशहाल परिवार” कार्यक्रम आयोजित किया गया


कार्यक्रम में विधायक चंदन चौहान जी की धर्मपत्नी श्रीमती यशिका चौहान जी ने कहा की महिलाओं पर परिवार व समाज की बहुत बड़ी जिम्मेदारी है महिलाओं के लिए सबसे महत्वपूर्ण उसका परिवार होता है आजकल डिप्रेशन व सुसाइड रोज की बात हो गई है आज महिला जितनी तनाव में है पुराने समय में उतना तनाव में नहीं होती थी। महिलाओं को इस डिप्रेशन व तनाव से मुक्ति पाने के लिए अपनी खुशी अपने अंदर ढूंढने की जरूरत है। महिलाओं को हर परिस्थिति में अपने अन्दर एक ऐसी चीज जरूर ढूंढनी चाहिए जिससे आपको खुशी मिलती हो ।
कार्यक्रम में यूनिसेफ से जुड़ी तरन्नुम बहन ने कहा की महिलाओं को अपनी जिम्मेदारियों को निभाने के साथ-साथ अपना स्वयं का भी ध्यान रखना चाहिए क्योंकि यदि हम स्वयं स्वस्थ होंगे तो हम सभी का ध्यान रख सकते हैं।उन्होंने बताया कि ब्रह्माकुमारीज सेंटर में जीवन जीने की कला सिखाई जाती है जो मुझे बहुत ही अच्छा लगा ।
कार्यक्रम में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की जिला संयोजक श्रीमती नीरज गौतम ने कहा कि यदि महिला खुशहाल रहेगी तो परिवार भी खुशहाल होगा और महिला खुशहाल तभी होगी जब महिलाओं का आध्यात्मिक सशक्तिकरण होगा।
पीआर पब्लिक स्कूल की प्रिंसिपल मानसी बहन ने कहा कि हम सभी को शांति की जरूरत है ताकि हम अपने परिवार को खुश रख सके और आप जिस शांति को खोज रहे है वह यहां ब्रह्माकुमारीज आश्रम में मिलती है। यहां आकर परिवार समाज व दुनिया सभी को शांति की राह मिलती है।
दिव्य धाम ब्रह्माकुमारी सेवा केंद्र की इंचार्ज जयंती दीदी ने कहा कि हम सभी को शब्दों की शक्ति को बचाना चाहिए तथा उस शक्ति को सकारात्मक कार्यों में लगाना चाहिए।
गांधीनगर ब्रह्माकुमारी सेवा केंद्र की इंचार्ज बबीता बहन ने गहन राजयोग का अभ्यास कराया।
कार्यक्रम में मंच संचालन बीके तारा बहन ने किया तथा सभी अतिथियों का स्वागत पूजा बहन ने बुके देकर किया।
कार्यक्रम में उर्मिल बहन अंजू, गीता, प्रतिमा, रेखा,मंजू, तनु, भारती,एवम मीडिया प्रभारी केतन कर्णवाल आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *