जेल में कटेगी आसाराम की जिंदगी, रेप के एक और मामले में उम्रकैद की सजा

गांधी नगर की एक अदालत ने 30 जनवरी को दुष्कर्म के मामले में सुनवाई करते हुए आसाराम बापू को दोषी करार दिया था ओर आज आसाराम बापू को महिला अनुयायी से रेप करने के आरोप में उम्रकैद की सजा सुनाई गई है. फिलहाल आसाराम बापू जोधपुर जेल में बंद हैं अब वह अपने गुनाहों के लिए उम्रकैद की सजा काटेंगे।दरअसल पूरा मामला साल 2013 का है, सूरत की दो बहनों ने आशाराम बापू पर दुष्कर्म का आरोप लगाया था. इसी रेप के मामले में गांधीनगर सेशन कोर्ट ने आसाराम को दोषी ठहराया था।

गौरतलब है कि आसाराम बापू समेत कुल 7 आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया था, जिसमें सबूत के अभाव के कारण आसाराम को छोड़कर 6 आरोपियों को बरी कर दिया गया है। अब उन्हें दोषी ठहराते हुए कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया है।
मामले में आसाराम के अलावा उसकी पत्नी लक्ष्मी, बेटी भारती और चार महिला अनुयायी ध्रुवबेन, निर्मला, जस्सी और मीरा को भी गिरफ्तार किया गया था. लेकिन सबूतों के अभाव में उन्हें जाने दिया गया ।
नाबालिग से रेप के आरोपी और जेल में बंद आसाराम बापू के लिए मुसीबतें तब भी बढ़ गई थीं जब उनके आश्रम से शव मिला था, आसाराम बापू के यूपी के गोंडा स्थित आश्रम से एक नाबालिग लड़की का शव बरामद किया गया था । यह शव आश्रम के अंदर कई दिनों से खड़ी एक कार में पाया गया था।जानकारी मिलने के साथ ही पुलिस तुरंत मौके पर पहुंच गई और शव को कब्ज़े में लिया गया।4 दिन पहले यह लड़की अपने घर से गायब हुई थी। दुर्गंध आने के बाद इस शव का पता चला था, जब आश्रम के कर्मचारी ने गाड़ी खोलकर देखी तो इसमें बच्ची की लाश मिली थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *