किसान मसीहा महात्मा महेंद्र सिंह टिकैत ने दिलाया किसानो को सम्मान-  धर्मेंद्र मलिक

किसान मसीहा महात्मा महेंद्र सिंह टिकैत ने दिलाया किसानो को सम्मान-  धर्मेंद्र मलिक


भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक ने सम्मान दिवस के रूप में मनाई टिकैत की 87वीं जयंती
गुरुवार को भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक ने महात्मा महेंद्र सिंह टिकैत जी के 87 वे जन्मदिवस पर कार्यक्रम का आयोजन आवास विकास कॉलोनी मुजफ्फरनगर में किया गया जिसमें सैकड़ों लोगों ने किसान मसीहा को श्रद्धांजलि अर्पित कर नमन किया।इस अवसर पर किसानो ने संकल्प लिया कि हमेशा महात्मा महेंद्र सिंह टिकैत जी के रास्ते पर चलते हुए किसानों के लिए संघर्ष जारी रहेगा।
इस अवसर पर भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक के मंडल अध्यक्ष नीरज पहलवान ने कहा कि हमें गर्व है कि हम महात्मा महेंद्र सिंह टिकैत के सिपाही हैं गांव गरीब किसान के अस्तित्व की रक्षा के लिए आज उनके दिखाए रास्ते पर चलकर किसानों के लिए संघर्ष जरूरी है। किसानों की समस्याएं कम होने के बजाय बढ़ती जा रही है किसान आत्महत्या कर रहा है किसानों को फसलों का उचित मूल्य नहीं मिल पा रहा है और किसानों पर महंगाई की मार भी पढ़ रही है ऐसे में किसानों को संयुक्त संघर्ष की आवश्यकता है
भाकियू अराजनैतिक के राष्ट्रीय प्रवक्ता धर्मेंद्र मलिक ने कहा कि आज हम अपने मसीहा को नमन करते हुए संकल्प लेते हैं कि हमेशा टिकैत साहब के दिखाए हुए मार्ग पर चलकर संघर्ष करते रहेंगे चाहे जो कठिनाई आए, लेकिन हम पीछे हटने वाले नही है। आज किसान नेता भी उनके दिखाए हुए मार्ग से पथभ्रष्ट हो गए हैं, उनका उद्देश्य केवल किसान संगठन की आड़ में राजनीतिक गतिविधियों को संचालित करना है । ऐसे में किसानों को सतर्क रहना होगा और यह भी देखना होगा कि किसानों की समस्याओं को लेकर कौन संघर्षरत है। महात्मा महेंद्र सिंह टिकैत ने देश को किसान की ताकत का एहसास कराया दिल्ली के लुटियंस जोन में महात्मा टिकैत की दहाड़ से देश के हुक्मरान हिल गए जब टिकैत साहब ने कहा कि इंडिया खबरदार दिल्ली में भारत आया है।
भारत में आज भी दो हिस्से हैं एक है इंडिया जिसमें धनाढ्य और संपन्न वर्ग के लोग रहते हैं और दूसरा है भारत जिसमें गांव गरीब किसान मजदूर रहता है देश में योजनाएं धनाढ्य व्यक्तियों को ध्यान में रखकर बनाई जाती है यही कारण है कि आज किसान को फसलों का उचित मूल्य भी नहीं ले पा रहे हैं किसानों के शोषण के लिए पशु पक्षी से लेकर सरकार तक सब तैयार है अगर किसान संगठित नहीं होगा और महात्मा महेंद्र सिंह टिकैत जी के विचारों को प्रबलता के साथ आगे नहीं बढ़ाएगा तो किसानो की समस्याएं कम होने के बजाय बढ़ती जाएगी।आज के दौर में महात्मा महेंद्र सिंह टिकैत  के द्वारा दिखाए रास्ते पर चलकर किसान संघर्ष को ऊंचाइयों तक ले जाने का समय है।
देश का दुर्भाग्य है इतने बड़े आंदोलन के बाद भी किसानों की समस्याएं जस की तस बनी हुई है इससे स्पष्ट है कि किसान नेताओं द्वारा किसानों का नहीं अपने हितों की रक्षा की जा रही है हम सब आज यह संकल्प लेते हैं की टिकैत साहब के दिखाए रास्ते पर चलकर सर्वस्त्र न्योछावर करने के लिए भी तैयार रहेंगे ।किसानों की पीड़ा को हर स्तर पर तहसील से लेकर मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री के समक्ष रखते रहेंगे
भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक सरकार की किसान विरोधी नीतियों का प्रबल विरोध करेगी और किसान हित में किए गए कार्यों के लिए सरकार का धन्यवाद भी करेगी ।
कार्यक्रम में अंकित चौधरी जिलाध्यक्ष, अक्षय त्यागी युवा जिलाध्यक्ष मुजफ्फरनगर अरविंद मलिक, बब्बन ठाकुर सदर ब्लाक अध्यक्ष, कुशवीर सिंह चरथावल ब्लाक अध्यक्ष, पवित अहलावत खतौली ब्लाक अध्यक्ष, सुमित गुजर पुरकाजीब्लाक अध्यक्ष, कुलदीप सिरोही, जिला महासचिव, आदित्य बालियान शाहपुर ब्लाक अध्यक्ष, विपिन त्यागी मंडल महासचिव,सतेंद्र, पियूष पंवार नगर अध्यक्ष मुजफ्फरनगर, दिलशाद युवा नगर अध्यक्ष, हसरत प्रधान, मयंक त्यागी युवा पुरकाजी ब्लाक अध्यक्ष, विजय मलिक, वीरेंद्र खरड़, अजय पंडित, संजय पाल, दामोदर सैनी, लोकेश पुंडीर, राजीव नीटू दुल्हेरा, नौशाद बालियान, वसीम खान राजीव पुंडीर, बाबा राजवीर सिंह, संदीप बालियान, वीरेंद्र वर्मा सहित सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *