पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत आईटी रिटर्न दाखिल करने वाले किसानों को भुगतान की गई राशि की वसूली पर पुनर्विचार किया जाये

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत आईटी रिटर्न दाखिल करने वाले किसानों को भुगतान की गई राशि की वसूली पर पुनर्विचार किया जाये – अशोक बालियान

किसान नेता और पीजेंट वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष अशोक बालियान एडवोकेट ने केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर को पत्र लिखकर पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत आईटी रिटर्न दाखिल करने वाले किसानों को भुगतान की गई राशि की वसूली के संबंध में पुनर्विचार करने की मांग की है जिसमें उन्होंने केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर को लिखा कि
पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत सरकार 1 साल में 3 किस्त के जरिए किसानों के खाते में 6,000 रुपए की आर्थिक सहायता भेजती है, जो कि किसानों के लिए आर्थिक रूप से काफी मददगार साबित हो रही है। केंद्र सरकार के दिशा-निर्देश के अनुसार पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत आईटी रिटर्न दाखिल करने वाले किसानों इसके लिए पात्र नहीं होंगे।
पीजेंट वेलफेयर एसोसिएशन का अनुरोध है कि पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत आईटी रिटर्न दाखिल करने वाले किसानों को भुगतान की गई राशि की वसूली के संबंध में पुनर्विचार किया जाना चाहिए। क्योकि देश में बहुत किसान ऐसे भी हो सकते हैं, जो आयकर के दायरे में नहीं रहते हुए भी वित्तीय अनुशासन के कारण आयकर रिटर्न भरते हैं। इसलिए इन किसानों का कहना है कि उनसे उपरोक्त राशि की वसूली नहीं की जानी चाहिए।
अत: आपसे अनुरोध है कि किसानों को भुगतान की गई पीएम किसान सम्मान निधि की राशि की वसूली के संबंध में पुनर्विचार करने हेतू समुचित कार्यवाही करने का कष्ट करें।
किसान नेता अशोक बालियान ने एक प्रतिलिपि संजीव बालियान, केन्द्रीय पशुपालन राज्य मंत्री, भारत सरकार, को भी भेजी है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *