बाहुबली और बाहरी बताने पर खुलकर बोले मदन भैया

बाहुबली और बाहरी बताने पर खुलकर बोले मदन भैया

खतौली विधानसभा क्षेत्र वासियों को कभी निराश नहीं होने दूंगा – मदन भैया

खतौली विधान सभा के उपचुनाव में रालोद सपा गठबंधन के प्रत्याशी मदन भैया आज बाहुबली और बाहरी होने पर खुलकर बोले। मदन भैया को आजाद समाज पार्टी ने भी खुलकर समर्थन किया है।
मदन भैया ने कहा कि विपक्षियों के द्वारा मतदाताओं को भ्रमित करने के इरादे से मुझे बाहुबली और बाहरी बताने का दुष्प्रचार किया जा रहा है मदन भैया ने कहा कि जहां तक बाहुबली होने की बात है तो अन्याय और उत्पीड़न के विरुद्ध लड़ाई लड़ना अगर बाहुबली होने की परिभाषा के दायरे में आता है तो अन्याय के खिलाफ लड़ने वाला हर व्यक्ति बाहुबली है। जहां तक बाहरी होने का प्रश्न है तो आज ग्लोबलाइजेशन के युग में पूरी दुनिया बहुत छोटी हो गई है। मेरे लिए बाहरी होने का दुष्प्रचार करना लोगों को मुद्दों से भटकाने की सोची समझी चाल है। मैं विरोधियों के लिए बाहरी हो सकता हूं लेकिन अपनों के लिए परिवार का सदस्य हूं
उन्होंने कहा कि हमारे नेता और रालोद के मुखिया  जयंत चौधरी के निर्णय से उन विपक्षियों और विरोधियों की नींद उड़ गई है जो खतौली विधानसभा चुनाव को बहुत हल्के में ले कर चल रहे थे। यही कारण रहा कि कल नामांकन के समय जब नामांकन के समय हम देश के संविधान निर्माता  बाबा साहब भीमराव अंबेडकर जी की मूर्ति पर माल्यार्पण करना चाहते थे तो जान पूछ कर श्री बाबा भीमराव अंबेडकर जी की मूर्ति स्थल पर ताला जड़ दिया गया। देश के महापुरुषों को सम्मान देने से रोकने की यह ओच्छी मानसिकता इस बात को साफ दर्शाती है कि वर्तमान सत्ता में महापुरुषों का इतिहास और सम्मान समाप्त करने की एक बड़ी साजिश चल रही है। इसीलिए पार्टी विशेष को खुश करने के लिए देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू और उस परिवार के लिए अनर्गल बातें बोलने की होड़ लग गई है जिस परिवार ने देश के लिए 2-2 कुर्बानी दी हैं। जिन राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी को दूसरे देश भी विशेष सम्मान की दृष्टि से देखते हैं उन पर कीचड़ उछालने से ज्यादा शर्म नाक कोई बात नहीं हो सकती। यह सब मुद्दों से भटकाने और महापुरुषों का इतिहास समाप्त करने की एक सोची समझी राजनीति के तहत किया जा रहा है।
रालोद सपा गठबंधन के प्रत्याशी और आजाद समाज पार्टी के समर्थित उम्मीदवार मदन भैया ने एक नुक्कड़ सभा को संबोधित करते हुए कहा कि मैं वादों में नहीं काम करने में विश्वास रखता हूं। अगर आपने मुझे चुनाव जिता कर मौका दिया तो खतौली विधानसभा क्षेत्रवासियों को कभी निराश नहीं होने दूंगा। खतौली क्षेत्र में अमन और भाईचारा कायम करना मेरी प्रथम प्राथमिकता होगी। क्योंकि जिस घर, परिवार, देश, प्रदेश अथवा क्षेत्र में अमन शांति और भाईचारा नहीं होता वहां विकास के कोई मायने नहीं होते।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *